आज के संदर्भ में 


 

आम आदमी


आम आदमी  


 

1.

संग्रहालय की वस्तु है

देश भक्ति - जन सरोकार

संसद ने कारपोरेट हाउस का रूप

अब कर लिया है अख़्तियार

बिजनीस हेड जन प्रतिनिध बन कर

बना लेते है मजबूत सरकार

करते हैं विदेश के दौरे

दौड़ाते है लाल बत्ती की कार

उन्हे अच्छे नहीं लगते

सड़क छाप आम आदमी के

स्वदेशी तौर तरीके और देशी व्यवहार

 

 2.

आम आदमी के दर्द को

जन प्रतिनिध

कब सुन पाया है

इतिहास गवाह है

आम आदमी ने

अपराध से लड़ने के लिए

कानून को हांथ मे लेने का

जब भी जोखिम उठाया है

तभी आम आदमी को

सुरक्षा देने का मजबूत कानून

वास्तव में बन पाया है

3.

जमीनी हकीकत को जो

हिकारत से देखते हैं

वे  मौका परास्त सिर्फ

मतलब की रोटी सेंकते हैं

सत्ता सुख का नशा

सर चढ़ कर बोला है

आम आदमी के लिए

कब  किसी ने

अपना मुह खोला है

कभी तो चलेगी

जमीन बचाओ की आँधी