आज के संदर्भ में


आज के संदर्भ में 


 

 

 

  



1.
काम / दफ्तर


निजी संस्थाओं में
करना काम यानि
कामगार की नींद हराम
खटना - पिटना
मुँह भर मेहनत
खून - पसीना एक
ऊपर से तुर्रा
जितना करोगे काम
बस उतना ही मिलेगा दाम ।

सरकारी दफ्तर
यानि कर्मचरियों की
ससुराल का घर
काम की सूचना गोल
पूछने पर टाल मटोल
लापरवाही -काम टालना
फाइल बनाना - फाइल निकालना
अपनी गेंद दूसरे के
पाले में डालना
दफ्तर है -
इन नकारों का पालना
दफ्तर आना यानि पूरी
मौज मनाना
महीना अंत पूरी पगार पाना ।

 

2.
चुनाव

देखो फिर से
निकल पड़े
झंडा उठाये भेड़ चाल
लोगों के झुंड
करने ब्यवस्था पर चोट ।

बस्ती के घरों के
बही खाते
पलटने के साथ
अट्ठारह के ऊपर
आदमी औरते हो गए वोट ।

पोस्टरों के चित्रों के साथ
चिन्हित हो रहीं दहलीजे
घर कुनबे गाँव कस्बे
चारा फेक तैयारी है
मुर्गों तीतर की लड़ाई जैसे
आपस में लड़ रहे
चाचा भतीजे ।

दलदली पगडंडी पर
कच्चे असमतल रास्तों पर
टायरों और पैरों के
बनते बिगड़ते निशान
दिखा रहे हमको
बैनरों की रस्सियों में
जकडे जा रहे सोंच विचार
व्यक्तिगत स्वतंत्रता के
दम घोटू नतीजे ।

हर बार चुनाव
माइक पर दावे
सटोरियों के दाँव
हर बार सिरों की गिनती
हर बार हारता है आदमी
हर बार जीतते हैं गुट
आदमीयत होती बैकफुट
हर बार होते हवाई फायर
हर बार हर्ष मानते गैंग
मायूस हैं लेखक शायर
मौका परस्त सियासत
के दिल कब पसीजे ।

 

3.
कुत्ता

गेट के बाहर
उसके हिस्से
आती है मात्र
गिनती की दो रोटी।

उसके बदले
गेट से गुजरने वाले
अपरचित को
वो भौकता है
सैंकड़ो बार ।

जब तक वह
ओझल न हो जाये
गेट से दूर
गली के पार ।

यह है निभाना कुत्ते का
इन्सान से ऊँचे हैं
कुत्ते के संस्कार ।

 

 

4.
जनपथ के बच्चे

घेर लेते है
चिथड़ो में लिपटे
गरीब बच्चों
के झुण्ड
चमचमाती
महँगी कारों को
जनपथ की
लाल बत्ती पर ।
रुकते ही
बेंचते हैं नन्हे हाथो
में थामी पेन - पेन्सिल
ताकि कार में बैठे
उनको खरीद कर
दिन भर करें
अपने कागज
नीले - काले ।
और मासूम बचपन
को शर्मशार करती
इस बिक्री से पाये
वे गरीब बच्चे
दिन की रोजी
पेट को निवाले ।

 

 

5.

सी बी आई को तोता बोले तो !

जब भी हाथों के तोते उड़ते हैं

तब ये ही

इन्हे ढूंढ ढूंढ कर पकड़ते हैं

इनकी बदौलत

चल रहे खोटे सिक्के

सलाखों के पीछे सड़ते हैं

समाज के विरोधी

कानून की चौखट पर

नाक रगड़ते हैं

पिंजड़े में कैद कर इन्हे

तोता तो न बनाओ

बल्कि पैने और नुकीले पंजे वाले

 इन बाजों को

और मारक बना कर

स्वतंत्र आकाश में उड़ाओ ।